CBSE Board Not Gives Percentage Division And Distinction Know What Will Be Written In The Marksheet


CBSE Marksheet Details: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने 10वीं और 12वीं के बोर्ड परीक्षाओं में डिवीजन, डिस्टिंक्शन और परसेंटेज बंद करने का फैसला लिया है. अब बोर्ड हर सब्जेक्ट में मिले नंबरों को दर्शाएगा. ये फैसला विद्यार्थियों के मध्य प्रतिस्पर्धा को कम करने व उनका आत्मविश्वास बढ़ाने में मदद कर सकता है. इससे को ये भी जानकारी होगी कि परीक्षा में उनके प्रदर्शन का आकलन नंबरों के आधार पर किया जाता है ना कि किसी भी डिवीजन या फिर डिस्टिंक्शन के आधार पर. बताते चलें कि सीबीएसई ने मेरिट लिस्ट जारी बंद कर दिया है.

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के परीक्षा नियंत्रक संयम भरद्वाज ने कहा है कि अब बोर्ड ओवरऑल डिवीजन या डिस्टिंक्शन जारी नहीं करेगा. उन्होंने बताया है कि छात्र ने अगर पांच से अधिक विषय लिए हैं तो ये इंस्टीट्यूट या फिर इंप्लॉयर के ऊपर ये निर्भर करेगा है कि वे कौन से पांच विषयों को बेस्ट मानता है. रिपोर्ट्स के अनुसार यदि उच्च शिक्षा या फिर नौकरी के लिए परसनटेज कैलकुलेशन की आवश्यकता होती है तो संस्थान या फिर खुद कंपनी कैलकुलेशन कर सकती है. बोर्ड की तरफ से इस प्रकार की कोई जानकारी नहीं दी जाएगी.

अब मार्कशीट पर आएगी ये जानकारी

  • छात्र का नाम
  • रोल नंबर
  • स्कूल का नाम
  • विषय का नाम
  • प्राप्त अंक
  • कुल प्राप्त अंक

उदाहरण की मदद से समझिए क्या कहता है नया नियम

10वीं क्लास की बात करें तो छात्र अगर 5 सब्जेक्ट का एग्जाम देता है तो उसके रिजल्ट पर ये जानकारी होगी-

  • नाम: अमित कुमार
  • रोल नंबर: 123456789
  • स्कूल: आ, बा सा, स्कूल
  • हिंदी: 80
  • अंग्रेजी: 80
  • गणित: 75
  • विज्ञान: 60
  • सामाजिक विज्ञान: 72
  • कुल प्राप्त अंक: 367
  • कुल अंक: 500  

इसी प्रकार12वीं क्लास में 7 सब्जेक्ट की परीक्षा देता है तो उसके रिजल्ट पर ये जानकारी दी जाएगी-

  • नाम: मोहित कुमार
  • रोल नंबर: रोल नंबर: 123456789
  • स्कूल: आ, बा सा, स्कूल
  • स्कूल: दिल्ली पब्लिक स्कूल, दिल्ली
  • हिंदी: 80
  • अंग्रेजी: 72
  • गणित: 82
  • भौतिकी: 62
  • रसायन विज्ञान: 55
  • जीव विज्ञान: 50
  • इतिहास: 65
  • कुल प्राप्त अंक: 466
  • कुल अंक: 700 

खेलें इलेक्शन का फैंटेसी गेम, जीतें 10,000 तक के गैजेट्स 🏆 *T&C Apply

यह भी पढ़ें- क्या है अनुभूति पाठ्यक्रम, जो अब यूपी की किताबों में शामिल होने वाला है

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI

Leave a Comment